पटना

पीएम मोदी से मुलाकात का मौका मिल सकता है

पीएम मोदी से मुलाकात का मौका मिल सकता है ,VENUE- पटना यूनिवर्सिटी यशवंत सिन्हा को

14 अक्टूबर की पीएम मोदी पटना यूनविर्सिटी में शताब्दी समारोह में शामिल होने वाले हैं. वीसी रास बिहारी सिंह ने पुष्टि की है कि सिन्हा भी आमंत्रित हैं.

पटना: पूर्व वित्तमंत्री और बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने एनडीटीवी से कहा था कि उन्होंने पीएम मोदी से मुलाकात के लिए एक साल तक इतंजार किया. अब लगता है उनकी यह इच्छा पूरी होने वाली है. बता दें कि 14 अक्टूबर की पीएम मोदी पटना यूनविर्सिटी में शताब्दी समारोह में शामिल होने वाले हैं. वीसी रास बिहारी सिंह ने पुष्टि की है कि इसमें सिन्हा को भी आमंत्रित किया गया है. सिन्हा ने यहीं से पॉलिटिकल साइंस में ग्रेजुएशन किया था और यहां खुद पढ़ाया भी हुआ है.

यशवंत सिन्हा मोदी सरकार पर फिर भड़के- 40 महीने से सरकार में हो, UPA को दोष नहीं दे सकते

एक अधिकारी ने कहा कि सिन्हा इस कार्यक्रम में शामिल होंगे या नहीं, इसके संकेत उन्होंने नहीं दिए हैं. सूत्रों ने बताया कि उन्होंने अभी तक कुछ निर्णय नहीं लिया है. बता दें कि पिछले दिनों यशवंत सिन्हा ने गिरती अर्थव्यस्था के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साधा था. एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में सिन्हा ने कहा कि नोटबंदी ने गिरती जीडीपी को और कमजोर करने में अहम भूमिका अदा की. तंज कसते हुए सिन्हा ने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि उन्होंने गरीबी को काफी करीब से देखा है, अब जिस तरीके से उनके वित्त मंत्री काम कर रहे हैं, उससे ऐसा लगता है कि वे सभी भारतीयों को गरीबी पास से दिखाएं. आज के समय में न ही नौकरी मिल रही है और न ही विकास तेज़ हो रहा है, जिसका सीधा असर इन्वेस्टमेंट और जीडीपी पर पड़ा है.

किसी के कहने पर नहीं, अपनी मर्जी से लिखा पिता की राय से असहमति जताने वाला लेख : जयंत सिन्हा

मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर पिता यशवंत सिन्हा के लेख का जवाब उनके बेटे और नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा की तरफ से दिया गया. पिता की तर्ज पर ही उन्होंने भी एक अंग्रेजी अखबार में लेख लिखा जिसमें अपने पिता की राय से असहमति जाहिर करते हुए मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों का जमकर बचाव किया.

मौजूद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी यशवंत सिन्हा पर पलटवार किया. नाम लिए बग़ैर कहा- वो 80 की उम्र में नौकरी ढूंढ रहे हैं. अब यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर जेटली के इस वार पर पलटवार किया है. इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में यशवंत सिन्हा ने कहा कि अगर मैं नौकरी ढूंढ रहा होता तो जेटली यहां नहीं होते. वो कह रहे हैं कि मैं निजी हमले कर रहा हूं, लेकिन ये सही नहीं है.

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.